बुकलेट: तीसरे चरण के बाद दिल्ली मेट्रो का वित्तीय विश्लेषण

कैंब्रिज के अर्थशास्त्री, हा-जून चांग का मानना है कि ‘अर्थशास्त्र का 95 प्रतिशत सिर्फ सामान्य समझ है, जिसे गणित और भारी-भरकम शब्दावली का प्रयोग करके मुश्किल बनाया जाता है।’ इससे हम समझ सकते हैं...

ब्रीफ़िंग पेपर: भारत में जलविद्युत विकास को बड़े पैमाने पर बढ़ावा

इस सेक्टर में निजी क्षत्रे को आकर्षित करने के लिए सरकार ने 2016 में इस पर चर्चा शुरू की कि नवीकरणीय ऊर्जा के क्षत्रे को और विस्तृत किया जाए ताकि 25 मेगावाट क्षमता से...

पुस्तिका: इंफ़्रास्ट्रक्चर निवेश: विकास या विनाश

एशियन इंफ़्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट बैंक और भारत का नेशनल इन्वेस्टमेंट एंड इंफ़्रास्ट्रक्चर फ़ंड के निवेश संकट की और एक इशारा